उत्तर प्रदेश में भूखण्ड / गाटे का यूनिक कोड कैसे जानें, देखें प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश राज्य जनसंख्या की दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्य है, तथा यहां करोड़ों की संख्या में जनता निवास करती है। आम जनता की सुविधाओं हेतु सरकार द्वारा समय-समय पर नई योजनाएं शुरू की जाती हैं, जिससे प्रदेशवासियों का जीवन आसान हो।

इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश राज्य सरकार की तरफ से भूमि के सभी अभिलेखों को ऑनलाइन करने हेतु “UP Bhulekh” पोर्टल को लॉन्च किया गया है, भूमि से जुड़ी सभी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध कराने से जनता को जहां सरकारी दफ्तरों में जाने से राहत मिली है, वहीं सरकारी कर्मचारियों का भी बोझ कम हुआ है। आज हम इस लेख के जरिए उत्तर प्रदेश में गाटे का यूनिक कोड जानने के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे।

UP Bhulekh पोर्टल का संक्षिप्त विवरण

लेख का नामउत्तर प्रदेश में भूखण्ड/गाटे का यूनिक कोड कैसे जानें, देखें प्रक्रिया
पोर्टल का नामयूपी भूलेख
राज्यउत्तर प्रदेश
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
आधिकारिक वेबसाइटhttps://upbhulekh.gov.in/

भूखंड/गाटे का यूनिक कोड जानने की प्रक्रिया

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में हर एक जमीन / भूखंड को एक यूनिक कोड प्रदान किया गया है, जिससे उसकी डिजिटल पहचान की जाती है। अगर आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं, और आप अपने भूखंड या गाटे का यूनिक कोड जानना चाहते हैं, तो आपको नीचे दिए गए कुछ निम्नलिखित चरणों का पालन करना पड़ेगा-

  • सबसे पहले भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट – https://upbhulekh.gov.in/ पर विजिट करें।
  • होमपेज पर आपको कई सारे विकल्प दिखेंगे, इनमें से “भूखण्ड/गाटे का यूनिक कोड जाने” विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, अब आपको अपने जिला, तहसील तथा ग्राम को चुनकर आगे बढ़ना होगा।
  • अब आपको अपने भूखंड का खसरा या गाटा संख्या दर्ज करना होगा।
  • संख्या दर्ज करने के लिए दिए हुए वर्चुअल कीबोर्ड का ही उपयोग करें।
  • अब इस भूखंड का खसरा या गाटा संख्या दर्ज करते ही आपके स्क्रीन पर उस भूमि के मालिक के नाम के साथ उस भूखण्ड का यूनिक कोड आपको मिल जाएगा।

इस तरह से कोई भी नागरिक उत्तर प्रदेश में भूखंड/गाटे का यूनिक कोड जान सकता है, उम्मीद है, आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आई होगी.

निष्कर्ष

उत्तर प्रदेश में प्रत्येक भूमि खंड या गाटे का अपना एक यूनिक कोड होता है, जिसकी मदद से उस गाटे से संबधित सभी जानकारी भू-स्वामी प्राप्त कर सकता है, कभी-कभी जानकारी के अभाव में भू-स्वामी इस कोड को भूल जाते हैं, ऐसे में उपरोक्त प्रक्रिया का पालन करके वह अपने गाटे के कोड को फिर से प्राप्त कर सकते हैं.

Leave a Comment